खुश रहने के लिए करें गहरी और लंबी सांस का अभ्‍यास, मानसिक और शारीरिक समस्‍याएं रहेंगी दूर

    0
    127


    Deep Breathing Benefits : अगर आप परेशान हैं और क्‍या करें ये समझ नहीं आ रहा तो सबसे पहले आप बैठिए और गहरी लंबी सांस (Deep Breathing) लीजिए और कुछ सेकेंड रुक कर सांस को बाहर निकाल दीजिए. आप खुद में काफी अंतर पाएंगे. दरअसल, गहरी लंबी सांस हम अपनी भागदौड़ भरी दिनचर्या में लेना ही भूल गए हैं, जिसकी वजह से शरीर में ब्‍लड सर्कुलेशन बेहतर नहीं रहता और हम थोड़ा भी स्‍ट्रेस (Stress) में असहज महसूस करने लगते हैं. वेरीवेलमाइंड के मुताबिक, कई शोधों में भी इस बात की पुष्‍टी की गई है कि अगर आप अपने सांस लेने के तरीके में बदलाव ले आएं और छोटी-छोटी सांस लेने की बजाय गहरी सांस लें, तो इससे आप मानसिक (Mental) रूप से तो बेहतर महसूस करेंगे ही आपका फेफड़े, ब्‍लड प्रेशर आदि भी बेहतर तरीके से काम करेंगे. खुलकर सांस लेना आजकल के लाइफस्टाइल के लिए बेहद जरूरी है. हर दिन कुछ मिनट की डीप ब्रीदिंग कई तरह के स्ट्रेस और एंग्जाइटी से आराम दिला सकती है.

    क्या है डीप ब्रीदिंग
    डीप ब्रीदिंग को डायफ्राग्मेटिक ब्रीदिंग कहते हैं. जब आप नाक के माध्यम से गहरी सांस लेते हैं और उसे धीरे से पेट ढीलाकर छोड़ते हुए सांस को बाहर निकालते हैं, तो इसे ‘डीप ब्रीदिंग’ की प्रकिया कहा जाता है. ऐसा करने से फेंफड़ों के अंदर ज्यादा ऑक्सीजन जाता है और पूरे शरीर के साथ ही ब्रेन में भी ब्‍लड फ्लो बेहतर बना रहता है. योग के माध्‍यम से भी आप गहरी सांस की प्रैक्टिस कर सकते हैं. प्राणायाम, कपालभाति, अनुलोम-विलोम आदि का अभ्‍यास कर आप गहरी सांस ले सकते हैं.

    इसे भी पढ़ेंः Covid 19: डीप ब्रीदिंग से फेफड़े को होता है कितना फायदा? जानें क्यों है ये जरूरी

     डीप ब्रीदिंग के फायदे

    मजबूत बनाता है फेफड़ा
    जब आप गहरी सांस लेते हैं, तो इससे फेफड़े में ज्यादा ऑक्सीजन पहुंचता है, जो नसों के माध्यम से पूरे शरीर में पहुंचता है. अगर रोज आप कई बार गहरी सांस लेने का अभ्‍यास करें, तो फेफड़ों का एक्सरसाइज होता है, जिससे ये मजबूत बनते हैं.

    एंग्जाइटी करे दूर
    अगर आप बेचैन हैं और एंग्जाइटी महसूस कर रहे हैं, तो कहीं बैठ जाएं और डीप ब्रीदिंग करें. ऐसा करने से आप काफी बेहतर महसूस करेंगे. आप एंग्जाइटी दूर करने के लिए रोज इसका अभ्‍यास कर सकते हैं.

    स्ट्रेस करे कम
    अगर आप कई दिनों से तनाव महसूस कर रहे हैं, तो प्राणायम का अभ्‍यास करें. प्राणायाम के जरिए गहरी सांस लेने का अभ्‍यास होता है और इससे मेंटल स्ट्रेस कंट्रोल जाता है.

    बढ़ता है फोकस
    जब आप गहरी सांस लेने का अभ्‍यास करते हैं, तो धीरे-धीरे आप अपनी पढ़ाई या काम की तरफ बेहतर तरीक से फोकस कर पाते हैं. यही नहीं, आप हलचल, शोरगुल में भी खुद को शांत रख सकते हैं.

    इसे भी पढ़ें: प्राणायाम से बढ़ेगा शरीर में ऑक्सीजन लेवल, सीखें तरीका

    गहरी नींद दिलाए
    गहरी सांस लेने से आप तनाव को दूर कर पाते हैं, जिससे रात को नींद भी अच्‍छी आती है. अगर आपको नींद न आने की समस्‍या है, तो आप बेड पर ही आंख बंद करके प्राणायाम करें और 10 बार गहरी सांस लें. आप अंतर पाएंगे.

    मूड रहता है अच्‍छा
    अगर आप रोज गहरी सांस लेने का अभ्‍यास करते हैं, तो आपका मूड भी बूस्‍ट होता है. रोज ऐसा करने से आप अंदर ही अंदर बेहतर महूसस करते हैं और दिन भर खुश और एनर्जेटिक महसूस करेंगे.

    Tags: Health, Health tips, Lifestyle



    Source link

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here