hdfc: HDFC hikes home loan rate for the third time in a month

    0
    956


    Hosuing Development Finance Corp Ltd (), भारत का सबसे बड़ा बंधक ऋणदाता, जो देश में दस में से चार वित्तपोषित घरों को निधि देता है, ने अपनी खुदरा प्रधान उधार दर (RPLR) – उधारकर्ताओं को गृह ऋण के लिए संदर्भ गेज – में 5 आधार अंकों की वृद्धि की है, इसका तीसरा एक महीने में वृद्धि।

    एक आधार अंक 0.01% प्रतिशत अंक है।

    नवीनतम वृद्धि का मतलब है कि एचडीएफसी से 780 से ऊपर के क्रेडिट स्कोर वाले उधारकर्ता के लिए न्यूनतम दर अब 7% से बढ़कर 7.05% हो गई है। इसने मौजूदा उधारकर्ताओं के लिए ब्याज दर में संचयी 40 आधार अंकों की वृद्धि की है।

    इससे पहले 1 मई को इसने अपनी बेंचमार्क दर में 5 आधार अंकों की बढ़ोतरी की थी और इसके बाद 7 मई को 35 आधार अंकों की बढ़ोतरी की थी। भारतीय रिजर्व बैंक‘एस (भारतीय रिजर्व बैंक) अपने बेंचमार्क में आश्चर्यजनक रूप से 40-आधार अंक की वृद्धि रेपो 4 मई को नकद आरक्षित अनुपात (सीआरआर) में दर और 50-आधार बिंदु की वृद्धि।

    रेपो रेट वह दर है जिस पर बैंक आरबीआई से कर्ज लेते हैं। सीआरआर जमा का प्रतिशत है जिसे बैंकों को बिना ब्याज अर्जित किए आरबीआई के पास अनिवार्य रूप से बनाए रखने की आवश्यकता होती है।

    नवीनतम वृद्धि का मतलब है कि 780 के क्रेडिट स्कोर से नीचे के उधारकर्ताओं को 30 लाख रुपये तक के ऋण के लिए न्यूनतम 7.15% और 30 लाख रुपये से 75 लाख रुपये के बीच के ऋण के लिए 7.40% का भुगतान करना होगा। 75 लाख रुपये से अधिक के ऋण पर 7.50% शुल्क लिया जाएगा। एचडीएफसी सभी श्रेणियों में महिला उधारकर्ताओं के लिए 5 आधार अंकों की छूट प्रदान करता है।



    Source link

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here